टोकरियां बेचीं चपरासी का काम किया मेहनत से बन गए - SHUBHNEWS
28/11/2022

SHUBHNEWS

NEWS JO SHUBH HO

IAS Sold baskets, worked as a peon

IAS Sold baskets, worked as a peon

टोकरियां बेचीं चपरासी का काम किया मेहनत से बन गए

Spread the love

IAS :- Sold baskets, worked as a peon to become an IAS ->केरल के रहने वाले मोहम्मद अली शिहाब. शिहाब की कहानी युवाओं के लिए खासकर उन छात्रों के लिए दो सभी सुविधाओं के होते हुए पढ़ाई से दूर भागते हैं एक प्रेरणा स्रोत है.
केरल के मल्लपुरम जिले के एक गांव एडवान्नाप्पारा में जन्मे मोहम्मद अली शिहाब आज एक आईएएस ऑफिसर हैं.
पिता का साया सर से उठने के बाद शिहाब के छोटे कंधे पर बड़ी जिम्मेदारी आ गई.
गरीबी के कारण मां ने शिहाब को अनाथालय में डाल दिया था.अनाथालय में रहते हुए शिहाब का ध्यान पढ़ाई लिखाई की तरफ गया और वह सभी बच्चों से होशियार भी थे.
अनाथालय से मिली अनुशासन उनको जीवन व्यवस्थित करने में बहुत मदद करती है.
विभिन्न सरकारी एजेंसियों की ओर से आयोजित होने वाली 21 परीक्षाओं को पास भी किया. इस दौरान उन्होंने वन विभाग, जेल वार्डन और रेलवे टिकट परीक्षक जैसे पदों पर काम भी किया.
शिहाब ने 2011 के में अपने तीसरे प्रयास में यूपीएससी परीक्षा क्लियर कर ली. यहां उन्हें ऑल इंडिया 226वां रैंक प्राप्त हुआ. इंग्लिश में इतने अच्छे ना होने के कारण शिहाब को इंटरव्यू के दौरान ट्रांसलेटर की ज़रूरत पड़ी थी, जिसके बाद उन्होंने 300 में से 201अंक हासिल किए.