भारतीय फुटबॉल कप्तान सुनील छेत्री फीफा द्वारा सम्मानित - SHUBHNEWS
28/11/2022

SHUBHNEWS

NEWS JO SHUBH HO

FIFA honored Indian footballer Sunil Chhetri

FIFA honored Indian footballer Sunil Chhetri

भारतीय फुटबॉल कप्तान सुनील छेत्री फीफा द्वारा सम्मानित

Spread the love

Indian Football captain Sunil Chhetri honored by FIFA -भारतीय फुटबॉल कप्तान सुनील छेत्री फीफा द्वारा सम्मानित FIFA Sunil Chhetri Documentary: भारत के दिग्गज फुटबॉल खिलाड़ी और टीम के कप्तान सुनील छेत्री. दुनियाभर में फुटबॉल को चलाने वाली संस्था फीफा ने भारतीय दिग्गज सुनील छेत्री. FIFA honored Indian footballer Sunil Chhetri फीफा ने भारतीय फुटबाल टीम के कप्तान सुनील छेत्री  फीफा ने उनके सम्मान में उनके जीवन अंदाज में सम्मानित किया है

FIFA honored Indian footballer Sunil Chhetri

सुनील छेत्री का खेल इसकी सबसे बड़ी वजह है. लिहाजा फीफा ने सुनील छेत्री को ये बड़ा सम्मान दिया है. फीफा ने जो डॉक्यूमेंट्री रिलीज की है, वो उसमें 20 साल से शुरु सुनील छेत्री के करियर की पूरी कहानी है. सुनील छेत्री पर बनी इस डॉक्यूमेंट्री का नाम कैप्टन फैंटास्टिक है.


फुटबाल की वैश्विक संचालन संस्था फीफा ने भारतीय फुटबाल टीम के कप्तान सुनील छेत्री को सम्मानित करते हुए उनके जीवन और करियर पर वीडियो जारी की।
सुनील छेत्री ने भारत में फुटबॉल को एक अलग पहचान दिलाई फुटबॉल के इस दिग्गज खिलाड़ी ने अपनी प्रतिभा से देश में इस खेल की लोकप्रियता को बढ़ाने में मदद की।
38 वर्षीय सुनील छेत्री को फीफा ने सम्मानित करते हुए उन पर एक डॉक्यूमेंट्री जारी की है, जिसमें उन्हें दुनिया के सबसे बड़े फुटबॉल खिलाड़ियों में से एक बताया है।
फीफा द्वारा सुनील छेत्री को मिला यह सम्मान भारत के नजरिए से बेहद खास है

3 अगस्त 1984 को सिकंदराबाद में जन्में सुनील छेत्री ने अब तक इंटरनेशनल फुटबॉल में 84 गोल दाग चुके हैं इस मामले में पहले नंबर पर क्रिस्टियानो रोनाल्डो ने अब तक 117 और लियोनल मेसी 90 गोल के साथ दूसरे नंबर पर बने हुए हैं वहीं छेत्री तीसरे नंबर पर हैं उनके पिता सेना में थे वे भी एक फुटबॉल खिलाड़ी थे उनकी मां सुशीला भी नेपाल की राष्ट्रीय टीम से फुटबॉल खेल चुकी हैं। सुनील को यह खेल विरासत में मिला, आज वो देश व दुनिया में एक बड़ा नाम हैं।

2011 में सुनील को अर्जुन आवार्ड और 2019 में पद्मश्री सम्मान से सम्मानित किया जा चुका है इसके साथ ही साल 2021 में खेल रत्न से भी नवाजा जा चुका है अब फीफा के द्वारा यह सम्मान भी गौरव की बात है।